समाप्त करता हूँ…/ I end…

समाप्त करता हूँ… अब मैं समाप्त करता हूँ… वो सफर जिसके अनंत होने की कल्पना की थी। आपको तलाशते हुए मेरी निगाहें आप ही पर टिकी हुई थीं जब उलझ कर रह गए उन डोरियों में, जिन्हें थामे रखने की ज़िद थी।   कागज़ की कोशिशें लिये… वक्त की बारिशों में भी भीग गया। हम … Continue reading समाप्त करता हूँ…/ I end…